Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Urad Dal Uses and Benefits in hindi Urad dal ke fayde

Urad Dal Uses and Benefits in hindi Urad dal ke fayde
Urad Dal Uses and Benefits in hindi Urad dal ke fayde

दालों (Pulses) को प्रोटीन (Protein) का पावर हाउस माना जाता है. वेजिटेरियन लोगों के लिए दाल ही प्रोटीन की कमी को पूरा करती है. उड़द की दाल के कई फायदे हैं.. जानें आपकी कितनी बीमारियों को जड़ से उखाड़ देती है उड़द की दाल

उड़द दाल क्या है? (What is Urad Dal in Hindi?)

उड़द काली तथा हरी आदि कई तरह की होती है। सब प्रकार के उड़दों में काले रंग की उड़द उत्तम मानी जाती है। वैद्यक ग्रन्थों में अनेक पौष्टिक प्रयोगों में उड़द की प्रशंसा की गई है। वास्तव में आमिष भोजियों के लिए जिस प्रकार मांस पुष्टिदायक माना जाता है, उसी प्रकार या उससे बढ़कर निरामिष भोजियों के लिए माष अर्थात् उड़द मांसवर्धक और पुष्टिकर होता है।

उड़द दाल के फायदों (benefits of urad dal – Urad Dal Uses and Benefits in hindi Urad dal ke fayde ) के बारे में जितना बोले कम होगा, क्योंकि इसमें कैल्शियम, पोटाशियम, आयरन, फैट, जिंक जैसे अनेक पौष्टिक तत्व हैं जो न सिर्फ स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है बल्कि यौन स्वास्थ्य के परेशानियों को सुधारने में भी मदद करते हैं। उड़द प्रकृति से मधुर, गर्म तासीर की होती है।

उड़द की दाल वात कम करने वाली, शक्तिवर्द्धक, खाने में रुची बढ़ाने वाली, कफपित्तवर्धक, शुक्राणु बढ़ाने वाली, वजन बढ़ाने वाली,रक्तपित्त के प्रकोप को कम करने वाली, मूत्र संबंधी समस्या में फायदेमंद, तथा परिश्रम करने वालों के लिए उपयुक्त आहार होता है। इसका प्रयोग पाइल्स, सांस की परेशानी में लाभप्रद होता है। इसके अलावा उड़द की जड़ अनिद्रा की बीमारी में बहुत फायदेमंद होती है क्योंकि इसके सेवन से नींद आती है।

उड़द की दाल [Urad Dal] बॉडी में ब्लड सर्कुलेशन [circulation] बढ़ाती है। इसमें बड़ी मात्रा में बायोऐक्टिव कंपाउंड्स [Bioactive compound] होते हैं जो हमारी बॉडी के फूड फंक्शन को इंप्रूव करते [Improving food function] हैं। हमारे पाचन तंत्र को ऊर्जा देकर हमें हर समय एनर्जेटिक [Energetic] रखते हैं। हेल्थ एक्सपर्ट्स का मानना है कि आधा कप उड़द की दाल [Half a cup of urad dal] में 114 किलो कैलरी होती हैं।

अन्य भाषाओं में उड़द दाल के नाम (Name of Urad dal in different languages in hindi)

उड़द दाल का वानस्पतिक नाम Vigna mungo (L.) Hepper (विग्ना मूंगो) होता है। इसका कुल Fabaceae (फैबेसी) होता है। उड़द दाल का अंग्रेजी नाम Black gram (ब्लैक ग्राम) है। लेकिन उड़द दाल को भारत के अन्य प्रांतों में भिन्न-भिन्न नामों से पुकारा जाता है। जैसे-

Urad dal in-

Sanskrit-माष, कुरुविन्द, धान्यवीर, वृषांकुर, मांसल, बलाढ्य, पित्रृभोजन, बीजरत्न, बली, बीजवर;
Hindi-उड़द, उड़िद उरद, उर्दी;
Odia-कालामूग (Kalamug);
Urdu-उड़द (Urada);
Kannada–उडु (Udu), उड्डू (Uddu);
Konkani-चीरीन्गो (Chiringo);
Gujrati-अदाद (Adad), अरद (Arad), अडद (Adad);
Tamil-उलुंडु (Ulundu);
Telugu–उडडुलु (Uttul), मिनुमुलु (Minumulu);
Bengali-माष कलाय (Mashkalaya);
Nepali-माष (Mash), मे (Mei);
Panjabi-मूजी (Muji);
Marathi-मगा (Maga), उड़ीद (Udid);
Malayalam-उजुन्नू (Uzhunn)।
Arbi-माष (Masha), माषे-हिन्दी (Mash-e-hindi);
Persian-माष (Mash), बनु सियाह (Banu-siyah)।

उड़द दाल के फायदे (Urad Dal Uses and Benefits in hindi Urad dal ke fayde )

बोन फ्रैक्चर का रिस्क घटाए

उड़द की दाल से प्रॉसेस्ड फूड और फास्ट फूड ना बनाकर अगर इसे दाल, साबुत उड़द या उड़द की दाल के लड्डू के रूप में खाया जाए तो यह शरीर को कहीं अधिक फायदा पहुंचाती है। इससे हमारी हड्डियां मजबूत बनती हैं और बोन फ्रैक्चर का खतरा कम होता है।

उड़द में मैग्नीशियम, कॉपर, जिंग, मैग्नीज, फास्फोरस, कैल्शियम और कई तरह के मिनरल्स होते हैं। ये सभी हमारी हड्डियों को मजबूत बनाने का काम करते हैं। उड़द की दाल की तासीर गर्म होती है, इस कारण सर्दियों में इससे बने लड्डू खाने से हमारे शरीर पर ठंड का असर नहीं होता है।

वीर्य बढ़ाने में मददगार

उड़द की दाल का सेवन पुरुषों में वीर्य बढ़ाने का काम करता है। पुरानी मान्यताओं के साथ ही अब हेल्थ एक्सपर्ट्स भी मानने लगे हैं कि उड़द की दाल के लड्डू मस्कुलिन पॉवर बढ़ाने में मददगार होते हैं। इन्हें खाने से मसल्स और बोन्स तो मजबूत होती ही हैं, पौरुष शक्ति में भी बढ़ोतरी होती है।

शरीर को गठीला बनाए

उड़द की दाल शरीर को गठीला और मजबूत बनाने का काम करती है। जो लोग बेहद पतले होते हैं, उन्हें सर्दियों में उड़द की दाल के लड्डू जरूर खाने चाहिए। वे हेल्दी और फिट दिखने लगेंगे।

मसल्स को स्ट्रॉन्ग बनाए

उड़द की दाल में मैग्नीशियम होता है, जो हार्ट प्रॉब्लम्स से बचाता है। उड़द की दाल और साबुत उड़द की तरह ही, देसी घी और गुड़ में बनाए गए उड़द की दाल के लड्डू मसल्स को स्ट्रॉन्ग बनाने का काम करते हैं।

ब्लड प्रेशर कम करे

सर्दी में हार्ट से संबंधित बीमारियां होने का खतरा बहुत अधिक बढ़ जाता है। उड़द और उड़द की दाल में ऐसे न्यूट्रिऐंट्स होते हैं जो हमारे ब्लड प्रेशर को नॉर्मल रखने के का काम करते हैं। जैसे, उड़द की दाल में सोडियम एकदम कम होता है जबकि पोटैशियम, कैल्शियम और मैग्नीज हाई होते हैं। ये सभी न्यूट्रिऐंट्स ब्लड प्रेशर को प्राकृतिक तौर पर कम रखने का काम करते हैं।

Urad Dal Uses and Benefits in hindi,gharelu nuskhe in hindi

you-should-keep-in-mind-5-best-benefits-of-split-black-gram